नरेन्द्र मोदी ने कहा कि तृणमूल की विदाई तय है।

 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ठाकुरनगर में मतुआ महासभा को संबोधित किया, जिसमें बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। ठाकुरबाड़ी की प्रधान बड़ी मां बिनापाणी देवी से आशिर्वाद लेकर वह सभामंच पर पहुंचे। बंगला में अपने भाषण की सुरुवात करते हुए उन्होंने कहा कि इस राज्य से तृणमूल की विदाई तय है, इसलिए वह डरी हुई है। जनसभा में उमड़ी भीड़ की ओर इशारा करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि भाजपा के प्रति जनता के प्यार को देख कर दीदी हिंसा कर रही है। नागरीक्त्व कानून पर तृणमूल का समर्थन मांगते हुए वह दावा किये कि इस बार के केंद्रीय बजट से गरीब और मध्यम वर्गीय परिवार लाभान्वित होंगे। खुद को किसानों का हितैशी बताते हुए, बिचौलिया राज को खत्म कर उनके एकाउंट में  सीधे छव हजार रुपये भेजने की बात कहते हुए प्रधानमंत्री ने कहां कि कांग्रेस की सरकार ने किसानों के हीत के बिषय पर कभी ध्यान नही दिया। मोदी के भाषण के दौरान मैदान के एक अंश में बिश्रिखला परस्थिति पैदा हौ गई, दर्शकों के बीच धक्का मुक्की हुई, कई  व्यक्ति जख्मी  हुए। सभमंच से प्रधान मंत्री ने लोगों को धक्का मुक्की करने से मना किया।