दहेज के लिए घोटा पत्नी का गला।

 

नदियाः प्रेम विवाह करने वाले एक शख्त ने शादी के तीन साल बाद ही अपनी पत्नी का गलाघोट दिया। आरोप है कि दिवाकर मंडल ने अपनी पत्नी को गलाघोट घोट कर मार डाला, फिर उसके खुदकुशी की कोशिश करने का अफवाह फैला कर शव को बेथुआडहरी अस्पताल ले गया, वहां शव रख कर अपने घर के सारे सदस्यों के साथ वह भाग खड़ा हुआ। मृत युवती के घरवालों ने दिवाकर और उसके पूरे परिवार के खिलाफ हत्या की प्राथमिकी नकाशीपाड़ा थाना में दर्ज कराया है। आरोप है कि दहेज के लिए उसकी हत्या की गई है।

नकाशीपाड़ा थानांतर्गत पाटिकाबाड़ी के तालबगान की रहनेवाली रुपा मजुमदार 20 और उसी इलाके के घोषपाड़ा के वाशिंदा दिवाकर मंडल 25 के बीच प्रेम था। एक साल तक आपसी मेलजोल के बाद वह दोनों खुद की मर्जी से शादी कर लिया, हालाकि उनके विवाह के प्रति लड़का के घरवालों की सहमति नही थी। आरोप है कि उनके शादी का पहला साल ठीक से बीता, फिर उनके बीच कलह होने लगी। हाल के दिनों में रुपा के ससुराल वाले मारपीट कर उसे खदेड़ दिये थें। दुखी मन से वह अपने मायके लौट आई थी। शनिवार दिवाकर अपने ससुराल पहुंचा। पत्नी को समझाबुझा कर अपने घर ले गया। रविवार सुबह रुपा के मृत्यु की खबर उसके मायके पहुंची।